रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन-डी आर डी ओ ने कोरोना संक्रमण के इलाज में काम आने वाली दवा टू-डीजी के इस्‍तेमाल के लिए दिशा निर्देश जारी किये हैं। 



डी आर डी ओ ने कहा है कि भारतीय औषधि महानियंत्रक द्वारा स्‍वीकृत इस दवा को डॉक्‍टर की सलाह के अनुसार ही दिया जाना चाहिए।

 टू-डी जी दवा को कोरोना मरीजों के इलाज में एक सहायक दवा के रूप में आपातकालीन उपयोग की मंजूरी दी गई है। 

अनियंत्रित मधुमेह, हृदय रोग, यकृत और गुर्दे संबंधी बीमारियों से ग्रस्‍त लोगों को यह दवा बहुत ही सावधानी से देनी होगी क्‍योंकि ऐसे मरीजों पर इस दवा के प्रभाव का अध्‍ययन अभी नहीं किया गया है।

गर्भवती और दूध पिलाने वाली महिलाओं तथा 18 वर्ष से कम आयु वाले मरीजों को यह दवा नहीं दी जानी चाहिए। 

मरीज और उसकी देखभाल करने वाले लोगों को सलाह दी गई है कि दवा की आपूर्ति के लिए अपने अस्‍पताल से अनुरोध करके हैदराबाद की डॉक्‍टर रेडीज प्रयोगशाला से सम्‍पर्क किया जा सकता है और ई-मेल पते - [email protected]  पर मेल भेजा जा सकता है।

Post a Comment

और नया पुराने