नीति आयोग ने आज देश के सतत विकास लक्ष्‍य सूचकांक- एसडीजी इंडिया इन्‍डैक्‍स का तीसरा संस्‍करण जारी किया। नीति आयोग के उपाध्‍यक्ष डॉक्‍टर राजीव कुमार ने भारत सतत विकास लक्ष्‍य 



सूचकांक और डैशबोर्ड- 2020-21:

कार्रवाई के दशक में भागीदारियां शीर्षक से रिपोर्ट जारी की। इस मौके पर नीति आयोग के सदस्‍य (स्‍वास्‍थ्‍य) डॉक्‍टर विनोद पॉल, मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत और सलाहकार (एस डी जी) संयुक्‍ता समद्दर भी मौजूद थे।


इस अवसर पर डॉ राजीव कुमार ने कहा कि सतत विकास लक्ष्‍य सूचकांक और डैशबोर्ड के माध्यम से सूचकांक की निगरानी के हमारे प्रयास को दुनिया भर में व्यापक रूप से सराहा गया है। उन्होंने कहा कि यह एक समग्र सूचकांक की गणना करके राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की रैंकिंग करने के लिए एक दुर्लभ डेटा-संचालित पहल है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि सतत विकास लक्ष्‍य सूचकांक और डैशबोर्ड आकांक्षा और अनुकरण का विषय बना रहेगा और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर निगरानी के प्रयासों को आगे बढ़ाने में मदद करेगा।


नीति आयोग के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने कहा कि  इंडेक्स रिपोर्ट का यह संस्करण साझेदारी के महत्व पर केंद्रित है। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट हमारे द्वारा बनाई और मजबूत की गई साझेदारी को दर्शाती है।

Post a Comment

और नया पुराने